Motivational Short Story With Moral Hindi

Motivational Short Story With Moral Hindi

Positive Thinking एक बहुत बड़ा रोल प्ले करता हे अपने जीवन मैं. ये हर एक इंसान मैं होना चाहिए और अगर नहीं हो तो  उसे वो अपने जड़त्व मैं पैदा करना पड़ेगा आपको । हर किसी भी चीज़ या किसी भी बात के दो पहलु होतो हे, लेकिन आप उनमें से कोनसा देखते हे ये बहुत जरुरी हे और इससे ही आप पॉजिटिव हो की नेगेटिव हो ये पता चलता हे. पॉजिटिव सकारात्मक सोच रखनेवाला व्यक्ति हमेशा खुश रहता है और लॉ ऑफ़ अट्रैक्शन के जरिये वो पॉजिटिव जो सोचता हे वो हमेशा real situation मैं तब्दील होता हे, मतलब जो इंसान जैसा सोचता हे वो वैसा ही पाता हे ये सच हे. इस पुरे टर्म को हम एक कहानी के द्वारे समझतें हे मतलब आसान रहेगा और समझ मैं आएगा।

Motivational Short Story With Moral Hindi

किसी गाँव में दो साधू रहते थे. वे दिन भर भीख मांगते और मंदिर में पूजा करते थे। एक दिन गाँव में आंधी आ गयी और बहुत जोरों की बारिश होने लगी; दोनों साधू गाँव की सीमा से लगी एक झोपडी में रहा करते थे, शाम को जब दोनों वापस पहुंचे तो देखा कि आंधी-तूफ़ान के कारण उनकी आधी झोपडी टूट गई है। यह देखकर पहला साधू बहुत  क्रोधित हो उठता है और बुदबुदाने लगता है ,” भगवान तू मेरे साथ हमेशा ही गलत करता है… में दिन भर तेरा नाम लेता हूँ , मंदिर में तेरी पूजा करता हूँ फिर भी तूने मेरी झोपडी तोड़ दी… गाँव में चोर – लुटेरे झूठे लोगो के तो मकानों को कुछ नहीं हुआ , लेकिन तूने मेरी ही झोपड़ी तोड़ दी. बिचारे हम साधुओं की झोपडी ही तूने तोड़ दी ये तेरा ही काम है …हम तेरा नाम जपते हैं पर तू हमसे प्रेम नहीं करता….”

तभी दूसरा साधू आता है और झोपडी को देखकर खुश हो जाता है नाचने लगता है और कहता है भगवान् आज विश्वास हो गया तू हमसे कितना प्रेम करता है ये हमारी आधी झोपडी तूने ही बचाई होगी वर्ना इतनी तेज आंधी – तूफ़ान में तो पूरी झोपडी ही उड़ जाती ये तेरी ही कृपा है कि अभी भी हमारे पास सर ढंकने को जगह है…. निश्चित ही ये मेरी पूजा का फल है , कल से मैं तेरी और पूजा करूँगा , मेरा तुझपर विश्वास अब और भी बढ़ गया है… तेरी जय हो ! ये कहके वो मंदिर चला जाता हे.

तोह दोस्तों एक ही घटना को एक ही जैसे दो लोगों ने कितने अलग-अलग ढंग से देखा … हमारी सोच हमारा भविष्य तय करती है , हमारी दुनिया तभी बदलेगी जब हमारी सोच बदलेगी। यदि हमारी सोच पहले वाले साधू की तरह होगी तो हमें हर चीज में कमी ही नजर आएगी और अगर दूसरे साधू की तरह होगी तो हमे हर चीज में अच्छाई दिखेगी ….अतः हमें दूसरे साधू की तरह विकट से विकट परिस्थिति में भी अपनी सोच सकारात्मक बनाये रखनी चाहिए। आप पर जो भी मुसीबत आये तोह उसे आप सकारात्मक यानि पॉजिटिव सोच से लोगे, तोह आपका फ्यूचर ये पॉजिटिव होता जायेगा एक एक्साम्प्ले और बताना चहु तो अगर आपके घर के पास सफ़ेद फूल वाला छोटा पैदा हो तो तुम एक चीज़ कर सकते हो, उसे अगर रेड कलर, पानी मैं मिक्स करके उस पौदे को डालदो तोह थोड़े दिनों के बाद उस पौदे के आनेवाले फूल ये रेड होंगे ये  प्रक्रृति का नियम हे आप ने उसे लाल कलर का पानी डालने के बाद वो लाल कलर का फूल देगा वैसे ही आप जो अपने दिमाग और दिल मैं डालोगे वैसे ही दुनिया आपको रिजल्ट देगी इसलिए समझलो इस पॉजिटिव पावर को और इसे दिमाग मैं फिक्स करलो, आज से ये पॉजिटिव वाला फार्मूला accept करो और देखो तुम कितना अच्छा फील करोगे। ऐसे ही शार्ट मोटिवेशनल ग्यान की स्टोरी सुनने के लिए कॄपया आप हमारा ये चैनल सब्सक्राइब करें और हमें सपोर्ट  करे. अगर आपके मन मैं कोई भी सवाल हो तोह आप निचे कमेंट बॉक्स मैं जरूर बताये, धन्यवाद् !

वीडियो द्वारा समजने के लिए निचे क्लिक करे….

Motivational Short Story With Moral Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *