How to Become Successful in Life

अगर आपका किसी चीज़ मैं focus नहीं हे तोह सफतलता भी आपसे थोड़ा दूर ही रहेगी। सफलता पाना आसान हे ऐसा मैं कहता हूँ और जो सफल हो गए हे वो लोग भी यही कहते हे पर सफलता पाना हर हिसि के बस की बात नहीं kyunki हम सब लोग अलसी बन गए हे, फोकस नहीं कर पते किसी चीज़ के ऊपर, एक काम जो हमने ठान लिया हे वो करते वक़्त इतने सवाल दिमाग मैं रहते हे की क्या घंटा कर पाएंगे और सवाल भी ऐसे होते ही की पूछो मत ऐसा लगता ही काम क्यों चालु किया, ये होगा की नहीं, ये कबसे मैं कर रहा हूँ और कितना टाइम लगेगा और कितना वक़्त लेगा और आखिर मैं ये होगा की नहीं ये doubt मैं रहते हे. यही सब बातें अगर दिमाग मैं आती हे, तोह ye काम शुरू करनेसे पहले क्यों नहीं सोची. अगर आप, अभी काम कोई ठान लिए हो तोह उसे पूरा करने के लिए जब भी ऐसे सवाल मन मैं आये तोह एक ही बात याद करो क्या सोच के आपने यह काम चालू किया था आपका वो सपना क्या हुआ जो आप इस काम को होने के बाद हासिल हरने वाले थे, क्या ख़तम को गयी आपकी उम्मीद, आपकी कोशिश, आपका दम, और आपका साहस। जब तक आप ये सोचो गए नहीं आप करोगे नहीं और जब तक आप करोगे नहीं तब तक आप जो सोचा हे वो होगा नहीं.  इस दुनिया मैं कोई आपको डायरेक्ट देना वाला नहीं हे और अगर देगा भी तोह उसकी एहमियत आपको हमेशा खुश नहीं रखेगी। खुद किसी चीज़ को कर के पाने मैं मज़ा हे वो डायरेक्ट मिलने मैं नहीं हे. आपका कोई सपना हे और आपने उसे मेहनत करके सच बना दिया तोह कभी सोचा हे वो ख़ुशी क्या होगी आपका चेहरा कैसे ख़ुशी से झलकेगा, आपको आगे का काम करने में कितनी उम्मीद आएगी, कितना मोटिवेशन आएगा। कभी न कभी आपने कही पर ऐसा काम कर दिखाया होगा जो की दुसरो के लिए असंभव रहा हो लेकिन आपने उसका सामना कर के स्टडी करके उस काम को पूरा किया जिसकी आपको तारीफ मिली हो वो तारीफ इसलिए मिली आपको, क्यूंकि उस काम को दूसरा और कोई कर न सका, लेकिन आप ने वो कर दिखाया। उस वक़्त क्या ख़ुशी थी आपकी चेहरे पे, आपको पोसिटिव बनाये रखा उस काम ने वैसे और प्रॉब्लम या वैसे और काम करने के लिए और आप अभी जो काम कर रहे हो,अभी जो आपने प्लान डाला हे या कोई मकसत को हासिल कर रहे हो वो भी ऐसा ही है आपको ये करते वक़्त बहुत मुश्किलें आएँगी आपका लक्ष भटकेगा लेकिन डटे रहकर उसे पूरा करने का माज़ा कुछ और है, और जो लोग वो काम नहीं कर सके उन लोगो को ये काम बहुत डिफिकल्ट लगता हे, किसी एग्जाम को एक बार मैं क्रैक करना या किसी बिज़नेस को लक्ष्य तक डेट रह कर उसे पूरा करना या किसी प्लान को या किसी मकसत को पूरा करना जो की असंभव हे ये सब एक ऐसी गुण हे जो एक सफलदार व्यक्ति मैं पाए जाते हे. और दुनिया ऐसे व्यक्ति को महँ समझती हे और उन्हें सलाम करती हे. ऐसे गुण सोचने मैं आसान लगते हे और ये वीडियो या मोटिवेशनल स्टोरी या स्पीच सुनते वक़्त आसान लगते हे और असल मैं इसके ऊपर चलने वाले लोग बहुत काम होते हे और यही काम लोग लास्ट तक जुड़े रहते हे उस लक्ष्य को उस बिज़नेस को उस एग्जाम को क्रैक करने के लिए जब दुनिया उन्हें पागल कहती हे बकवास कहती हे चुटिया कहती हे तब भी ये जुड़े रहते हे उसे पाने की उम्मीद और चाहत से और आखिर मैं वो ये लक्ष्य सफल कम्पलीट करके दिखते हे और वही लोग जो इन्हे तरह तरह की बातें कर रहे थे वो उसे luck का नाम दे देते हे लेकिन जिन्हे ये पता हे की ये कितना बिग अचीवमेंट हे वो लोग हमेशा ऐसे व्यक्ति को सलाम करते हे और ये अचीवे करके वो लोग इतिहास रचा देते हे. इस दुनिये मैं भी यही हे जो चीज़े invent हो गयी हे उसके बारें मैं हमें अभी कुछ लगता नहीं लेकिंन अगर सोचा जाये वो जब इंवेंट होने से पहले तोह वो एक नामुनकिन चीजे थी. जिन्होंने उसे कम्पलीट करके इतिहास रचा दिया, जैसे एक example देना चहुँ तोह  जब थॉमस एल्वा एडिसन जब बल्ब का शोध लगा रहे थे तोह वो १००० बार नाकामयाब हो गए थे लेकिन कभी वो अपने लक्ष्य से हेटे नहीं वो लगे रहे और बल्ब का अविष्कार कर दिया. ऐसे बहुतसे उदहारण हे he वैसे ही आपने जो ठान लिया हे वो थोड़ा कठिन लगेगा आपो लेकिन आप जब उसे अचीव करोगे तोह ये लोग जो तुम्हे अभी पीछे खींच रहे हे या फिर आपका मोटिवेशन या आपका सहस कम कर रहे हे यही लोग आपको बड़ा कहेंगे क्यूंकि इनके लिए यह सब करना न मुंकिन था. अभी मैं आपको कुछ ऐसे रूल्स बताऊंगा की आपको आप ने जो थान लिया लिया हे उस लक्ष से हटने नहीं देगा तोह शुरू करते हे

सबसे पहले आप जो काम कर रहे हो उसमे भरोसा रखो, उसका एक प्लान बनाओ और उस प्लान शीट को किसी दिवार पर चिपका सकते हो क्यूंकि ये actual main आपके सपने pure करने वाला प्लान हे, उसे हमेशा देखते रहिये जब आपका फोकस हटने लगे या मोटीवेट कम होने लगे तब इस प्लान की तरफ देखो और फिरसे चार्ज हो जाओ

  दूसर रूल आप अपने प्लान के हिसाब से एक टाइम टेबल बना लीजिये, यह बहुत जरुरी हे की आपके प्लान को execute करने के लिए, एक टाइम स्लॉट होना चाहिए जो की manditaory हे ये आपको बताएगा की आपका कितना वक़्त कहा बर्बाद हो रहा हे और आपने जो timeslot दिया था उस काम को करने के लिए वो कितना अपने अबतक execute किया जो आप टाइम स्लॉट बनयेथे उसके हिसाब से आप चल रहे हो की नहीं आप हर दिन का काम पूरा हो रहा हे की नहीं ये सब

तीसरा पॉइंट आप जब काम कर रहे हो तोह नेगेटिव चीजों और इंसान से दूर रहो… क्यूंकि ये बहुत जरुरी हे आपके नेगेटिव चीज़ो और demotivate व्यक्ति से सभाल के रहना चाहिए ये सब वो व्यक्ति हे जैसे मैं आपको पहले बताया जिनको ये सब काम असंभव लगता है इनसे आप काम पूरा होने के बाद ही मिलना सही रहेगा, क्यूंकि खुद कभी कुछ करेंगे नहीं और जो कर रहे हे उनके पीछे खीचेंगे। और एक बात आप अपने लक्ष को हासिल करते वक़्त आपको ये होगा की नहीं, ये कब होगा, अभीतक थोड़ा भी रिजल्ट नहीं दिख रहा हे, ये सब सोचना नहीं हे आपको बस ये काम अपने १०० % तक करना हे बिना किसी रिजल्ट के और किसी चाह के उसमे मन लगाकर खुश होकर आपने अगर उस प्लान को चुना हे मतलब आपका कुछ सपना हे और वो जरूर आप हासिल करोगे और ऐसा ही होगा इसे लॉ ऑफ़ अट्रैक्शन कहते हे बस कभी भी नेगेटिव बातें मत सोचो ये आपके दिमाग मैं अगर घर बनाली तोह हो गया,

चौता रूल फोकस आप जो काम कर रहे वो उसमे फोकस होना बहुत जरुरी हे आपका लक्ष्य ही आपका सहस हे ये हमेशा याद रखना आप जिस काम को कर रहे आप उसमे कितना मग्न हो, किस हद्द तक आप उसमे उलझे हो, ये नहीं की आप काम कर रहे हो और ५ १० मिनट के ब्रेक मैं फेसबुक या यूट्यूब ओपन किया और उसमे ही घंटा भर चल रहा हे, ऐसा नहीं  आपका जो टास्क था जो टाइम स्लॉट था उसे पूरा होना चाहिए इस उम्मीद के साथ और आपका प्लान थोड़ा आपके दिन के रूटीन के हिसाब से आपके काम करने के स्पीड ke हिसाब से थोड़ा बड़ा होना चाहिए क्यूंकि ज्यादा काम आपको लक्ष भटकने नहीं देगा जितना आप डेली करते हो उसे ये थोड़ा हमेशा ज्यादा होना चाहिए और ये डे by डे बढ़ते रहना चाहिए

फिफ्थ और लास्ट नियम daily ka काम ख़तम होने पर उसके बारे मैं सोचे जो आपने आज काम किया हे वो ख़तम होने के बाद उसे बैठ के याद करले इससे ये होगा की आप को काम करते वक़्त क्या परेशानिया आयी थी और आपने उसे कैसे solve किया, इससे आपको थोड़ा इंस्पिरेशन मिलेगा और ये किसी और का सिखाया हुआ नहीं अप्पके दिल का inspiration होगा जो बहुत ज्यादा हद्द तक काम करेगा, इससे आपको ye bhi  automatic पता चलेगा की कल अब क्या करना हे कहाँ से शुरू करना हे किस चीज़ मैं आपको कितना वक़्त लग रहा हे ये सब। और हमेशा एक चीज़ याद रखो जो काम आप कर रहे हो इससे आप अपने दिल से खुश होकर हरो ये सफल जरूर होगा और उसे सफल होना पड़ेगा थोड़ा टाइम लग सकता हे लेकिन जरूर होगा आप उसमे फ़ैल भी होगये तोह आप फ़ैल नहीं होंगे क्यूंकि आप तब तजुर्बा हासिल कर चुके होंगे क्यूंकि सफलता मिले या तजुर्बा ये दोनों चीजे नायब हे – ऐसा अब्दुला कलम ने कहा हे. और अगर असफल हो गए तोह दोबारा और पुरे जोश से जब फिरसे try करोगे तोह सफलता जरूर मिलेगी ये गॅरंटी हे. यह वीडियो आपको कैसा लगा आप नीचे कमेंट बॉक्स मैं जरूर बताना और इस वीडियो को like करना न भूलिए धन्यवाद्

अगर इस कहानी को वीडियो मैं देखना और सुनना निचे क्लिक करे

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *